Sagar Sagar
प्रकाशित साहित्य
36
पाठक संख्या
25,224
पसंद संख्या
0

परिचय  

प्रतिलिपि के साथ:    

सारांश:

मैं एक ऑटो मैकेनिक हूँ.., ज्यादा पढ़ा लिखा नहीं हूँ..., पर जिन्दगी ने इतना कुछ सिखा दिया है... कि जितना हम स्कूल और कॉलेज में भी नहीं सीख पाते..., बस जिन्दगी ने जो भी दिया... वो ख़ुशी ख़ुशी मैनें ले लिया..... !


Rahul Arya

7 फ़ॉलोअर्स

Sadhana Sharma

10 फ़ॉलोअर्स

M₹ $ingh

21 फ़ॉलोअर्स

Rahul Arya

7 फ़ॉलोअर्स

Sadhana Sharma

10 फ़ॉलोअर्स

Samyak Singhai. (jain)

69 फ़ॉलोअर्स
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.