Sagar Mehta
प्रकाशित साहित्य
4
पाठक संख्या
10,043
पसंद संख्या
0

परिचय  

प्रतिलिपि के साथ:    

सारांश:

मेरे बारे मे...मे आपसे क्या कहु?? मेरी टेढ़ी मेढ़ी कहानिया और मेरी कहानियो के अच्छे बुरे किरदार..यही मेरी पेहचान है .... मेरे शब्द मेरी पहचान बने तो बेहतर है...चेहरे का क्या है.. चला जायेगा मेरे साथ ही एक दिन…!!!


nimmi jha

46 फ़ॉलोअर्स

anika

668 फ़ॉलोअर्स

Somya Dhiksik "Somya"

2 फ़ॉलोअर्स

manjit

35 फ़ॉलोअर्स

roshan mansur

0 फ़ॉलोअर्स
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.