Pawan Pandey
प्रकाशित साहित्य
149
पाठक संख्या
112,656
पसंद संख्या
0

परिचय  

प्रतिलिपि के साथ:    

सारांश:

मै वास्तव मै लेखक नहीं हूं। पढ़ने की आदत मेरी चोथी पांचवीं से थी। मै हर तरह की किताबें पढ़ता था, चंपक,नंदन, पराग,विक्रम बेताल,चंदा मामा, फैंटम,गुलशन नंदा,रेनू,राजवंश, प्रेम बाजपेई, ,अनेक सामाजिक और जासूसी उपन्यास आदि। जिंदगी के आस पास जो दिखाई देता है, जो महसूस होता है,कुछ भीतर से अनायास मन कुछ कहने को बाध्य हो जाता है,वह रचना के रूप में सामने आती है। मुझे अपने किरदारों से बेहद लगाव है, मै उनकी जिंदगी जीता हूं, मुझे इस बात की बेहद खुशी है कि मुझे पाठको का बेशुमार प्यार ,आशीष मिला है, मै हृदय तल से उन सभी का शुक्रिया अदा करता हूं,आभार व्यक्त करता हूं। सप्रेम नमस्कार।


Rubeena Khan

19 फ़ॉलोअर्स

Aarti Gupta

8 फ़ॉलोअर्स

Pawan Pandey

1 फ़ॉलोअर्स

Akshay Bharti

62 फ़ॉलोअर्स

Ravi Jangid

40 फ़ॉलोअर्स

Narendra Pal

2 फ़ॉलोअर्स
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.