jyoti dhaked
प्रकाशित साहित्य
26
पाठक संख्या
9,281
पसंद संख्या
0

परिचय  

प्रतिलिपि के साथ:    

सारांश:

एक गुनाह करने जा रही हूँ मैं तोड़ के सब बंधन खुद को जीने जा रही हूँ मैं


Rajeev

131 फ़ॉलोअर्स

Sandeep Kumar "सचेत"

64 फ़ॉलोअर्स

દિપ. (ધ શાયર) "The shayar."

1,074 फ़ॉलोअर्स

Ravi Jangid

68 फ़ॉलोअर्स

Neha Chaudhary "Hunny"

17 फ़ॉलोअर्स
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.