Dr.pankaj soni
प्रकाशित साहित्य
2
पाठक संख्या
236
पसंद संख्या
0

परिचय  

प्रतिलिपि के साथ:    

सारांश:

अपने लिए तो सभी जी लेते हैं कोशिश करो कि निःस्वार्थ दूसरों के लिए जियें। दुआ करने वाले हांथो की अपेक्षा मदद करने वाले हाथ ज्यादा अच्छे होते हैं।


आकाश इफेक्ट

499 फ़ॉलोअर्स

Amit Verma

169 फ़ॉलोअर्स

Er Gufran Alam

369 फ़ॉलोअर्स

T Kiranbala.singh

4 फ़ॉलोअर्स
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.