मितुल गुप्ते
प्रकाशित साहित्य
13
पाठक संख्या
60,162
पसंद संख्या
1,013

परिचय  

प्रतिलिपि के साथ:    

सारांश:

कहानियाँ लिखना और फ़िर उन्हें आँखों के सामने जीवित करना यहीं मेरी ज़िन्दगी है । यानी लेखन और दिग्दर्शन ये मेरा शौख , पेशा एवं ज़िन्दगी है


Viral Parikh

1 फ़ॉलोअर्स

bhagirath choudhary

582 फ़ॉलोअर्स

CA Dinesh Mundra

6 फ़ॉलोअर्स

Rohit Dhariwal

1 फ़ॉलोअर्स
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.