प्रगति त्रिपाठी
प्रकाशित साहित्य
67
पाठक संख्या
80,840
पसंद संख्या
0

परिचय  

प्रतिलिपि के साथ:    

सारांश:

बचपन से ही कहानियां और कविता पढने का शौक धीरे- धीरे लिखने का भी शौक बन गया, मुझे कहानियां लिखना बहुत पसंद हैं।मैंने , एम ए (सोशलाँजी ) और बी०एड० किया हैं। इसलिए समाज से जुड़े मुद्दे ही मेरे कलम से निकलते हैं, जो महसूस करती हूँ उसे लिख डालती हूँ।


तरुणा डहरवाल

1,226 फ़ॉलोअर्स

Pradeep jain Chandaliya "हमसफ़र"

409 फ़ॉलोअर्स

parmanand rajak

5 फ़ॉलोअर्स

balramjajoria

21 फ़ॉलोअर्स

Manpreet Gill Bachhal

0 फ़ॉलोअर्स
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.