एमडी नासिर
प्रकाशित साहित्य
20
पाठक संख्या
128,933
पसंद संख्या
0

परिचय  

प्रतिलिपि के साथ:    

सारांश:

घाटों और मंदिरों के शहर बनारस से हूं। दिल्ली बिल्कुल भी पसंद नही फिर भी यहां हूं और रहना भी पड़ेगा शायद गलती से IT feild में जो हूं। एक मिडल क्लास फैमिली से हुं तो कैरियर के साथ समझौता करना पड़ा आप हर वो चीज़ नही कर सकते जो आप चाहते है। मिडल क्लास फैमिली में ख्वाहिशें घुटने टेक देती है जरूरतों के आगे। फिर आपको वो भी करना पड़ता है जो आप नही चाहते। मैं भी इसी का शिकार हुआ और आई टी इंजीनियर बन गया जो नही चाहता था। तुम पढ़ते रहना यूं ही मैं लिखता जाऊंगा। बन जाना तुम कोरा कागज़, और मैं क़लम बनारस की। ~ 8th Nov. ज़िंदगी का इम्तेहान शुरू हो गया ख़त्म कब होगा पता नही। Favourite writer: सआदत हसन मंटो Favourite game: Cricket, Fuss ball, Chess Part time: Stock trading .


शहला अंस।री "Shaihla"

2,236 फ़ॉलोअर्स

जेबा रशीद

46 फ़ॉलोअर्स

Wasif Khan

57 फ़ॉलोअर्स

Faizan Ahmad Khan

32 फ़ॉलोअर्स

n Mesurani "નિધી"

167 फ़ॉलोअर्स

Divyanshu Srivastava

128 फ़ॉलोअर्स
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.