आरती अयाचित
प्रकाशित साहित्य
145
पाठक संख्या
13,654
पसंद संख्या
0

परिचय  

प्रतिलिपि के साथ:    

सारांश:

मुझे लेख, कविता एवं कहानी लिखने और साथ ही पढ़ने का बहुत शौक है । मैं केन्द्रीय कार्यालय की पूर्व कर्मचारी रही हूं । कार्यालयीन अवधि में हिन्दी दिवस के अवसर पर हिन्दी पखवाड़ा के तहत आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं जैसे निबंध, भाषण, वाद विवाद एवं कविता पाठ में हिन्दी अधिकारी एवं उपायुक्त महोदय द्वारा पुरस्कृत भी किया जा चुका है । एकता की जान है हिन्दी , भारत देश की अस्मिता है हिन्दी । हिन्दी दिवस की आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए प्रतिलिपि समूह पर अपनी लेखनी के माध्यम से अपने विचार प्रस्तुत करने का एक छोटा सा प्रयास कर रही हूं । सेवा में धन्यवाद प्रस्तुति ।


Ritesh Saxena "Mr. Sayr"

79 फ़ॉलोअर्स

manjit

22 फ़ॉलोअर्स

Tanvi Sharma

12 फ़ॉलोअर्स

स्वाति

915 फ़ॉलोअर्स

Tanvi Sharma

12 फ़ॉलोअर्स

manjit

22 फ़ॉलोअर्स
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.