love part 1

Rishabh Sharma "#Rishi"

love part 1
(10)
पाठक संख्या − 6892
पढ़िए

सारांश

बचपन से मैं हिंदी माध्यम से पढ़ रहा था ,और मैं 8वीं तक पढ़ा भी था , परन्तु इस अंग्रेजी के युग में पिताजी मुझे भी अंग्रेजी माध्यम से पढ़ाना चाहते थे । इस लिए वो मुझे अपने साथ sheopur ले गए जहाँ वो कपडे ...
Ajay Singh
Bhut acchi thi
रिप्लाय
Tr Moola Ram Machara
अच्छी कहानी पर आगे की कहानी बताओ
रिप्लाय
kirti gupta
very nice
रिप्लाय
Pooja Agnihotry
हाँ पढ़ाओ
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.