ख़ास दोस्त

Minni Mishra

ख़ास दोस्त
(11)
पाठक संख्या − 2713
पढ़िए

सारांश

“हाय रवि |“ “अरे...तुम. ? यहाँ..?” “ तुम दू...र से ही मुझे दिख गये | काफी दिनों बाद मिले हो.. चलो बैठकर , इसी रेस्टुरेंट में बातें करते हैं |” मैं, झट, कार का दरवाजा बंद कर रवि के साथ रेस्टुरेंट में ...
Nivedita Gupta
Nice
रिप्लाय
Kavita Porwal
bahut hi prernadayak kash ese dost Sab ko mile
Sandeep Soni
वाह ,दोस्त हो तो,ऐसा
रिप्लाय
Madhuri Shukla
सकारात्मक
रिप्लाय
Poonam Singh
खूब निक
रिप्लाय
कुसुमाकर दुबे
बहुत बढ़िया।सकारात्मक।प्रेरक।
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.