हौसलेबाज़

अजितेश आर्य

हौसलेबाज़
(26)
पाठक संख्या − 770
पढ़िए

सारांश

बेरोजगारी के समय में नवयुवाओं को , हौसले की उड़ान का आज के परिप्रेक्ष्य में अर्थ समझाती ,और आगे बढ़ने की प्रेरणा देती कहानी।
Deepak Rathor
अति सुंदर कहानी है भाई।
Ajay Gupta
गिरते हैं शस्वार मैदाने जंग में वो तिकहम क्या गिरे जो घुटनो के बल चले
रिप्लाय
anand naidu
ek prerna, ek acchi seekh nayi peedhi ke liye.
Vishal Suriya
bahut behtarin story aatma prasaan ho gayee👌👌👌👌👌
dinesh kadam
superb...laajawaab preranadayak kahani
अनुश्री त्रिपाठी मिश्रा
👏👏 Aksar log upsc ke exam me safal hone se Judi kahaniyon ko hi prerna ke taur par likhte hain , pehli bar itni acchi kahani dekhi , jo sirf ek exam nhi Balki Puri zindgi ke exam me kamyab hone ko prerit kare, sach hai , aap tab tak nhi harte jab tak aap khud se haar na maan le.
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.