हाफ हनीमून

मनोज देशमुख "मासूम "

हाफ हनीमून
(109)
पाठक संख्या − 15188
पढ़िए

सारांश

कल मेरी शादी है। घर में सभी लोग शादी की तैयारी में व्यस्त है।मेरे घर में पुरे एक दर्जन लोग, बोले तो भरी पूरी फेमिली है । दादा-दादी = घर में इनका हुकुम चलता है। चाचा = कंपनी में कार्यरत है। चाची = ...
राजेश सिन्हा
मजेदार कहानी। पढ़ कर मुस्कान आ गयी।
sakshi Jain
very nice story
रिप्लाय
Dev Tiwari
बहुत सुंदर रचना 👌👌👍
रिप्लाय
Gaurav Kumar
मस्त
रिप्लाय
Hari Agarwal
Nice
रिप्लाय
Shraddha Verma
interesting...
रिप्लाय
JS Naphrary
So sad vary bad
रिप्लाय
arun singh
part 2 to banta hai
रिप्लाय
Pranjal Sharma
hahahahaha kya bolen bechare 👍👌💐😊😊
रिप्लाय
Davinder Kumar
Manoj ki kahani bahut Kamjor hai
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.