हाँ, नही हूँ मैं तुम्हारी सगी माँ..

मनीषा दुबे

हाँ, नही हूँ मैं तुम्हारी सगी माँ..
(116)
पाठक संख्या − 28285
पढ़िए

सारांश

बेटी तुम लड़की हो पर कमज़ोर नही...
Hemlata Shardul
सही है ममता देने के साथ सीख देना भी जरूरी है क्योंकि दुनिया आजकल बहुत ज्यादा प्रगतिशील हो गई है
Sudha Dhasmana
बहुत सुन्दर आज के समय में लडकियां लडकों से कम नही है और होनी भी नही चाहिये नही तो समाज चैन से जीने नही देगा
Priyanka Sahetya
Very inspirational story
Rashmi Kulkarni
सही है आज के समय में आत्म रक्षा करना जरुरीहै
Kalpana Dubey
बहुत सुंदर प्रेरक ब बच्चों के लिए अच्छी कहानी है सही मार्गदर्शन ही जीवन की दिशा निश्चित करता है बधाई
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.