हल

आशीष कुमार त्रिवेदी

हल
(314)
पाठक संख्या − 15185
पढ़िए

सारांश

मनोज की शराब पीने की लत के कारण उसकी तबीयत बिगड़ती जा रही थी। डॉक्टर ने कई बार उसे शराब छोड़ने को कहा था। मनोज चाह कर भी शराब पीना छोड़ नहीं पा रहा था। अतः उसकी लत छुड़ाने के लिए उसके डॉक्टर ने उसे ...
PREMLATA SHARMA
nice story
रिप्लाय
surinder kaur
jabardast see mine also
रिप्लाय
Sava Agrawal
bahut hi sunder
रिप्लाय
Hari Agarwal
Behatarin
रिप्लाय
MONIKA MEHRA
तथ्य से अवगत करा दिया Doctor
रिप्लाय
Sandhya Shrivastava
अच्छी कहानी है
रिप्लाय
रवीश कुमार
अतिसुन्दर और प्रेरक।अंत जोरदार है,जो सोचने को मजबूर कर देता है।
रिप्लाय
Sharda Rawat
nice
रिप्लाय
Neelam Mishra
bilkul sahi baat
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.