सेक्स शादी और समझौते

अखिलेश प्रधान

सेक्स शादी और समझौते
(28)
पाठक संख्या − 1040
पढ़िए

सारांश

कोई अगर पूछे कि भारत के युवा पीढ़ी के सामने आज सबसे बड़ी समस्या क्या है तो मैं इन तीन शब्दों का नाम लेते हुए कहूंगा कि यही सबसे बड़ी समस्या है और यही सबसे बड़ी बीमारी भी है। असल में ये बीमारी थी नहीं लेकिन इसे कुछ इस तरीके से हमारे सामने परोस दिया गया है कि हम इससे आगे का कुछ सोच ही नहीं पा रहे। हमारी सोच इतनी संकुचित हो चुकी है कि हमारे लिए ये चुनिंदा विषय आज जीवन का अंतिम लक्ष्य तक बन चुके हैं, हम न इसके आगे का कुछ सोचना चाहते हैं न ही कुछ करना चाहते हैं। हम इन्हीं विषयों के इर्द-गिर्द चर्चा कर खुद को संतुष्ट करने में ही लगे रहते हैं।
Nand Kishor Nagora
क्या खूब लिखा है sir plz send me this story in text file... my email id is - nknagora12@gmail.com
Neha Thakur
very nyc
रिप्लाय
Suman Yadav
very nice 👌👌
रिप्लाय
jaya
Bohut hi umda..👌👌👏 shi nvaj pkdi h yhi ho rha h Charo tarf.. lkin kuch umeed bhi jagi h aap jaise lakheko ko dekh kr km s km es pdh kr smay rhte kuch log to ess smjh kr shi rastey pr aaye apn aantrik or mastish vikas p dhyan de.. kuch rachntmak kaam kre or sikhe.. jise insaan hone ka Jo gourav ek baar Mila h use ache s shi Mayne m je to paye..😊😊👍
रिप्लाय
Dev Singh
जिसकी जैसी भावना होती है उसको वही दिखता है।
Himanshu Pal
Raaja maharajao ko kya chahiye hota pehle ke jamane, ye kuch naya nahi hai
मनीष त्रिपाठी
बहुत अच्छा लेख है
रिप्लाय
विरासनी सिंह
बहुत अच्छा हैं
रिप्लाय
मिर्ज़ा वसीम
good one
रिप्लाय
Anju Chouhan
nice subject
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.