सहारा अपने आप का

nafis

सहारा अपने आप का
(8)
पाठक संख्या − 207
पढ़िए

सारांश

मैं छोटी से बड़ी हो गई । यह सुनते हुए के  मर्द के बिना औरत कुछ भी नहीं हर शक्ल में मर्द का सहारा चाहिए । चाहे वह बाप हो या बेटा पति हुई भाई ।मेरे दिल और दिमाग में भी यह बात बैठ गई और नतीजा यह वह कि ...
Mamta Pattanaik
👍👍👍👍👍👍👍👍👍
रिप्लाय
Jaiveer Singh Poonia
very nice I'm
रिप्लाय
Sadaf Sania
nice story 👌👌👌
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.