सबूत चाहिए

Annapurna Mishra

सबूत चाहिए
(18)
पाठक संख्या − 761
पढ़िए

सारांश

वेदना एक औरत की
आशीष
👌
रिप्लाय
Kamlesh Patni
अग्नि परीक्षा और सबूत नारी से ही क्यों?समाज कितना भी आधुनिक हो जाए मानसिकता नहीं बदली है।कब और कैसे बदलेगी यह पुरूष समाज ही बताने का कष्ट करे।
रिप्लाय
Pramila Joshi
बहुत दिनो बाद इतनी सुन्दर रचना पढी ,अति सुन्दर एक बहुत महत्वपूर्ण विषय पर।
रिप्लाय
Sunita Veer
Marmsparshi rachna
रिप्लाय
Lata Gaikwad
very nice
रिप्लाय
Geeta Ved
amazing shandar rachna
रिप्लाय
himanshu
kahne ko shabd nahi hain. samaj ki vidambana.
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.