सबसे मिलिए धाय

नीतू सिंह

सबसे मिलिए धाय
(8)
पाठक संख्या − 98
पढ़िए

सारांश

क्रिश यादव अपनी दुकान पर बैठे दूध बेच रहे थे। अपनी नादानी में एक जनाब की बेइज़्ज़ती कर बैठे, बिना ये सोचे कि कभी अपना भी कोई काम उनसे निकल सकता है।
Mahesh Sangai
रहिमन या संसार में सब सों मिलिए धाय, ना जाने किस भेष में "नारायण" मिल जाय।
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.