सच में वह एक प्रेतात्मा थी ।

गिरिजा शंकर मिश्रा

सच में वह एक प्रेतात्मा थी ।
(213)
पाठक संख्या − 14981
पढ़िए

सारांश

बचपन से हीं भूत प्रेत की कहानियों सुनने में आती थी । लोग कुछ इसतरह अपना अपना अनुभव सुनाते थे कि उस पर अविश्वास भी नही किया जा सकता ? iबचपन से हीं मैं थोड़ा संकोची ज़रूर था पर निडर और साहसी था । मैं ...
Seema Mishra
really m also face...m also believe on ghost nd pretyoni
रिप्लाय
Shailesh Prajapati
Ha bhai hoteto he bhut-but, etna sara padhliya he ki abto bhutose dosti karneko dil chahtahe. Dekhatu kab milenge.
Vinay Arora
ek nob mast hai hai kahani maja agaya ashi bhi as rahi hai aur enjoy bhi ho gaya
Govind Pandey
मस्त है जी । पसन्द आयी ।
Suraj Prajapati
ye sachh hai aisa hota hai jisko yakin na ho raat ko 12bje kahin ghoom k aajaye to malum padega
Manisha Patel
bilkul sahi kaha apne
देवेन्द्र उप्रेती
भविष्य है तो भूत भी है
Vikram Rathore
भाई टोटल टाइम वेस्टेज है तुम्हे पढ़ना
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.