शेरा

गजेन्द्र भट्ट

शेरा
(31)
पाठक संख्या − 616
पढ़िए

सारांश

आवारा शोहदों से सार्थक संघर्ष करने वाली एक लड़की के साहसिक कारनामे को उजागर करती मेरी यह कहानी...प्रस्तुत है स्नेही पाठकों के लिए!
Hari Agarwal
Behatrin
रिप्लाय
Neeti Mehra
बहुत अच्छा।आज के समय में हर एक लडकी को अपनी सुरक्षा के लिए खुद को मजबूत बनाना चाहिए , जिससे वह दूसरे पर निर्भर ना रहकर स्वयं अपनी सुरक्षा कर सके,जैसा सुमन ने किया। इससे शायद समाज में लड़कियों के साथ हो रहे अपराध कम हो जाए।
रिप्लाय
tareshwari mishra
प्रेरक प्रसंग अति सुंदर चित्रण हुआ है ऎसे ही लिखा कीजिए
रिप्लाय
Shourabh Prabhat
बेहतरीन
रिप्लाय
Neha Khare
बहुत ही शानदार कहानी सर जी 👌👌👌🙏
Lalita Vimee
बहुत अच्छी और प्रेरणादायक कहानी, जनाब।।
रिप्लाय
दीपक चौधरी
बेहतरीन, प्रेरणा देती कहानी।
रिप्लाय
शिवानी शांतिनिकेतन
प्रेरित करती रचना.....मन के भाव अगर शुद्ध है तो व्यक्ति की बदलते देर नहीं लगती.👌👌👌
रिप्लाय
दुर्गा प्रसाद
बहुत सुन्दर।👌👌
रिप्लाय
R.K shrivastava
कोई एक सदगुण ही सारे दुर्गुणों को खत्म कर देता है । जब तक सोया है तो सोया है । जगते ही सब दुरुस्त कर देता है ।।
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.