शेफाली चली गई

प्रियदर्शन

शेफाली चली गई
(108)
पाठक संख्या − 10227
पढ़िए
Suman Pandey
बढ़िया कटाक्ष
Mishu Pancholi
कितने अच्छे से लिखी
Nagesh Tripathi
अच्छी शैली है।
ईश्वर सिंह बिष्ट
जीवन के कटु सत्य से सामना कराती हुई सार्थक रचना है । सूरत और सीरत । हार्दिक बधाई ।
Sushma Gupta
लौग तन की सुन्दरता को ही महत्व देते है। मन की सुन्दरता को देखना ही नही चाहते
Neetu Srivastava
अच्छी रचना
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.