शिवानी

पल्लवी राय

शिवानी
(102)
पाठक संख्या − 11776
पढ़िए

सारांश

(थोड़े से संशोधन के साथ दोबारा प्रकाशित) ये कहानी है एक ऐसी लड़की की जो बचपन से ही अंतर्मुखी स्वभाव की रहती है और इसके पीछे छुपा होता है एक गहरा राज और इसलिए वो पुरुषों से भी दूर भागती है और बड़े होने के बाद भी वो इससे बाहर नही निकल पाती जब तक उसे एक अच्छे और उससे बहुत अधिक प्रेम करने वाले लड़के से मुलाकात नही होती। गौर करने वाली बातें ये है की लड़की के माता पिता भी उसे कभी समझ नही पाते न समझने की कोशिश करते हैं।
Preeti Chandra
nice story
रिप्लाय
Ramashish Kumar
सही मनोविज्ञान को दर्शाता एक बेहतरीन कहानी
रिप्लाय
Sonali Chauhan
कहानी अच्छी है लेकिन यदि शिवानी आत्मरक्षा के गुर सीखकर खुद की रक्षा करती तो ज्यादा मजा आता
रिप्लाय
Deepika Bhardwaj
बहुत बढिया
Rakesh Pandey
Wah, palviji ati sunder rachna
अंशु प्रिया
बहुत सुंदर रचना
shivani
bhut achi story h
Amit Saraswat
pallvi ji I am still student of political science
रिप्लाय
Mass Bhojpuriya
बेहतरीन
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.