शान्ति

मनमोहन भाटिया

शान्ति
(118)
पाठक संख्या − 6901
पढ़िए

सारांश

पागल पागल पागल की आवाज के साथ कुछ बच्चे शोर मचाते हुए भाग रहे थे, उनके पीछे एक महिला अभद्र गालियां बकती हुई पीछा कर रही थी। उस महिला ने एक पत्थर उठा कर उन आगे भागते हुए बच्चों की ओर फेंका। निशाना गलत ...
Manjeet Kaur
👌👌👌👌👌
रिप्लाय
Rajni Gupta
👌👌
रिप्लाय
Ramesh Chandra
very nice story
रिप्लाय
Koshu Bhojak
Very emotional
रिप्लाय
Manju Jain
Masterpiece
रिप्लाय
Heena Jain
bahut hi maarmik kahani sir , kahaani khatam ho gyi mgr aansu nhi ruk rhe
रिप्लाय
Reshma saifi
umda kahani
रिप्लाय
Sanjai
very nice story.....
रिप्लाय
Mnu Vrk
nyc story 👌👍 👍
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.