वो कौन था (किसी शक्ति की अनुभूति)

अनुरोध श्रीवास्तव

वो कौन था (किसी शक्ति की अनुभूति)
(39)
पाठक संख्या − 2857
पढ़िए

सारांश

परा शक्ति की अनुभूति
Kunal Patidar
ऐसा अनुभव मैंने तो मेरे जीवन मैं कभी नही किया ।क्यो मानते हो दुसरो को भयानक क्यो दूसरो को डराने वाला मानते हो।यदि दुसरो से प्रेम किया होता तो तुमको भूत मे भी वो परमात्मा ही नजर आता जो मारने डराने वालो मे से नही सबको तारने वालो मे से है🙏🙏हम सब आत्मा है🙏🙏
रिप्लाय
Lokesh Kumar Nama
bakwas,kahani me koi talmel nhi he
Vishal Sharma
श्रीमान जी जैसा की आपने कहा है की उस वक़्त फ़ोन आम आदमी के लिये उप्लब्ध नही थे जैसा की आज कल आसानी से बच्चा _ 2 लिये घूम रहा है । आज कल हम फोन् से मनोरंजन करते हैं उस टाईम पे ठीक ऐसे ही मनोरंजन किया जाता था ठीक ऐसी ही मनगढंत कहानिया सुना के 😂 आज फ़ोन का सुख आप भगत रहे हैं तो आप अपने टाईम की मनगढंत कहानियो को दुनिया को सुना रहे हैं अच्चा है 👏 🤣🤣🤣🤣
manoj kumar
nice story
रिप्लाय
Shola Khan
aapne hindi bht jyada sudh likhi h jo ki smjh hi nai aa ri aadhi
रिप्लाय
Pragya Pandey Tiwari
horrible
रिप्लाय
Deepak Valvani
ham sirf sakaratmak oorga ko hi mane to ye hamari bool hae,har shae ke do pahelu hote haen, sakaratmak oorja hae to nakaratmak oorja bi hoti hae, chahe ham mane ya namane."D"
रिप्लाय
Ranjeet Pujari
nice
रिप्लाय
Rishabh Shukla
nice
रिप्लाय
Navin Raj Gautam
Nice story sir ji
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.