वो काली स्याह रात

Satyam Singh

वो काली स्याह रात
(31)
पाठक संख्या − 5087
पढ़िए
krishan kumar
कहानी अच्छी लगी, रात का समय वो माहौल, लाल हवेली और उसका रहस्य, उसी समय एक आदमी वह बच्चे का आना, कहानी में रोमांच भरते हैं।
SMITA SINGH
bakwas! waste of time
Hamraz
bacche ki jaan loge kya
Praveen Srivastava
कुछ भी रोमांचक नहीं है इस कहानी में
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.