विलायती बहू

अल्पना नागर

विलायती बहू
(150)
पाठक संख्या − 10734
पढ़िए

सारांश

व्यंग्य शैली में कहानी कठोर भारतीय परम्पराओं के शनै शनै कमजोर पड़ने पर आधारित है।कहानी के मुख्य पात्र 'धापूड़ी देवी' के इर्द गिर्द संपूर्ण घटनाक्रम घूमता है।
अटल पांडेय
Achhi kahani mam bahut sundar kahani
poonam
bakvas Kahani hai nimn starr ki
रिप्लाय
Mukesh Verma
व्यंग्य और मातृत्व से भरपूर रोचक कथा
Deepak Bhawsar
बहुत अच्छी रचना है। एक ही साँस मे पूरी कहानी पढ़ ली। लेकिन कहानी का अंत अचानक हो गया। थोड़ा अंत रोचक होना चाहिए था।
Rakesh Pandey
बहुत ही अच्छी कथानक ऐसेही लिखते रहे धन्यवाद
Jitendra Singh
😍😍😍😂😂😂😂😇😇😇
hemant anand
कहानी का अंत रोमांचक होना चाहिए था
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.