विदआउट मैन

गीता पंडित

विदआउट मैन
(87)
पाठक संख्या − 8912
पढ़िए

सारांश

हुआ यूँ कि जून का महीना और डी.यू. में एडमीशन की लम्बी लाइन, सुबह छ बजे से लगे हुए मैं पस्त हो चुकी थी इसलिए पीछे से आँधी की तरह तेजी से भागती हुई आयी और इधर-उधर देखे बिना सबसे आगे जाकर खडी हो गयी | ...
Asha Tiwari
agar aisa hota toaaj har aurat ka sapna pura ho pata
Jitendra Lohar
नारी के अस्तित्व का सजीव व्यख्यान ,लेकिन नायिका की सोच आदि काल की परिवार परम्परा की घोतक है।
रीतू गुलाटी
लीक से हट कर जोरदार कहानी।मेरी रचना भी पढे एक बार।
Ravi Sinha
खूबसूरत
Sk Pal Sailendra Sk
जी परीदे जी ले अपनी जिंदगी
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.