अरविन्द सिन्हा
यथार्थ से प्रेरित सुन्दर कहानी ।
Shivam Burnwal
विचित्र देश या बेवकूफों का देश
मनीष यादव
आपका विचित्र देश बहुत कुछ जाना पहचाना सा लगता है।ये और बात रही की मैं उस कालखंड का भागी नही रहा लेकिन किस्से सुनते थे तो एहसास होता था भयावहता का पर आपकी कहानी ने जैसे सचित्र सजीव चलचित्र उपस्थित कर दिया आँखों के सामने ।अदभुत और बेहद बेहतरीन रचना रही आपकी ।शुभकामनाएँ ।
Ajay
manevar Dhirendre ji.....behad shandar likha aapne...wastav m asa krur ataychar us vichtre desh m hi hota h jha ..bewakuf logo ki bhed bghunha logo ko jinda jla dti h...
Dipender Jangir
भाव विभोर कर देने वाली कहानी
Vandana Prasad
wah ! bahut khub likha aapne bahut achhi kahani..!
Chandra Shekhar
बहुत अच्छा व्यन्गात्मक चित्रण
Girish Kumar Gumashta
संकेतो का प्रयोग अच्छा h
Santosh Pandey
बहुत सुंदर
गुमान
bahut hi behtarin, shabd nhi hai mere pass 👏👏👏
Nishchal Verma
रोमांचक
जनक
ye kisi filmy hero ki nhi asli insaan ki khani h
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.