लौटकर आऊँगा एक बार फिर...

सुधा आदेश

लौटकर आऊँगा एक बार फिर...
(80)
पाठक संख्या − 5273
पढ़िए

सारांश

रितिक का शव घर से निकलते ही निकिता फूट-फूट कर रो पड़ी...आस पास खड़े लोगों की आँखों में भी आँसू झिलमिला रहे थे । रितिक था ही इतना प्यारा कि बरबस सभीं को अपनी ओर आकर्षित कर लेता था। वर्षो जीवन मृत्यु से झ
Akashkumar saini
good .aapki satory pasand aai .thank you
Veena Tuli
Dil Ko Chu gai kahani
रिप्लाय
नेहा रानी
🙏🙏🙏
रिप्लाय
Priya Singh
Speechless...🤗🤗😊😢
रिप्लाय
Swarn Lata Purohit
very very emotional $ nice story 👏👏👌👌👌👌👌👌👌rula diya hmein......
रिप्लाय
Neelam Singh
लाजवाब
रिप्लाय
namita srivastava
Behtareen kahani....👌👌👌👌👌
रिप्लाय
सुधा आदेश
बच्चा कैसा भी हो , माता-पिता की आंख का तारा होता है । स्वस्थ बच्चे से अधिक बीमार बच्चे की देखभाल करना माता -पिता के लिए चुनोती ही नहीं कर्तव्य भी होता है ।
Mass Bhojpuriya
बहुत ही सुन्दर रचना
रिप्लाय
और्व विशाल
सादर नमन आपके लेखन को। शब्द ही नहीं है 👌👌👌
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.