लूटने वाले, लुटने वाले

सुनील आकाश

लूटने वाले, लुटने वाले
(55)
पाठक संख्या − 7179
पढ़िए

सारांश

रोहन से मेरा परिचय हुआ तो पता चला कि वह मेरे शहर गाजियाबाद से ही था और दिल्ली नौकरी करने जाता था। संयोग ऐसा कि वह मेरी ही कम्पनी के पास एक कम्पनी मॆं नौकरी करता था। बीच मॆं एक पेड़ के नीचे चाय की ...
Sonal Gupta
I agree..ham sirf badi clinic aur tam jham dekhte hai...
रिप्लाय
Anuradha Singh
Right
रिप्लाय
kalpana Naidu
nice story
रिप्लाय
Anupam Shukla
सत्य को उजागर करती कहानी।
रिप्लाय
Nice
रिप्लाय
aparna
बहुत सुन्दर कहानी सर ,मैं भी पेशे से डॉक्टर ही हूँ 😊🙏
रिप्लाय
Mamta Dhingra
nice story
रिप्लाय
Manavprem
bahut hi badiya
रिप्लाय
Mahesh Pentar Pentar
Mahesh Pentar rcm
रिप्लाय
aleem man
💯
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.