लव

रितेश कुमार सक्सेना

लव
(15)
पाठक संख्या − 155
पढ़िए

सारांश

ज़रा सा तुम भी लिख दो कि तेरे बिना मन नहीं लगता ज़रा सा तुम भी लिख दो कि तेरे बिना मन नहीं लगता मेरा दिल बहल जाये तो तुम फिर से मुकर जाना ...
अनिता तोमर
वाह! वाह! बहुत ही बढ़िया 👌👌👌
रिप्लाय
Kanti Kumari
wahh👌Bahut khub👌
रिप्लाय
Nita Shukla Dubey
वाह 👌
रिप्लाय
Preeti Soni
awesome, 😊😊😊😊😊👍👍👍👍
रिप्लाय
अरुणा जांगड़ा
wah! bahut khub....🌺
रिप्लाय
Pragya Bajpai
beautiful lines.
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.