लव मैरिज

मिनाक्षी मिश्रा -एहसासनामा

लव मैरिज
(763)
पाठक संख्या − 35591
पढ़िए

सारांश

"बड़ी सुघड़ है समीर के घरवाली ! टोला भर में उस सी बहुरिया नै आयी आज ले " पुरे गांव में चर्चा है दिया की | दिया है ही इतनी सुन्दर ..समीर ने दिया को पहली नज़र में पसन्द कर लिया था जब कॉन्फ्रेंस में उसे ...
Ankur Pandey
Bhot achha likha hai aapne humari society me kuch log aise bhi hai Jo love marriage ko bhot buri cheez mante hai pr ye story in logon ke liye bhot achhi cheez hai
Swati Gupta
बहुत खूबसूरत है आपकी रचना
Sudha Solanki
ek achhe bete se jiyada ek achhi bhu honi chahiye
Ajay Gupta
आग लगाने वाले तो बहुत है कोई कोई ही उससे बच पाता है
radhika yadav
एक सोच बन गयी है समाज में कि जिस लड़की ने शादी अपनी मर्जी से की है वो घर भी अपने हिसाब से ही चलाएगी परिवार को साथ लेकर चलना कहां आता है ऐसी ल़डकियों को परंतु सच हमेशा ऐसा नहीं होता पति से बेइंतहा प्यार करने वाली लड़कियां उसके माँ बाप और परिवार से भी बहुत प्यार कर सकतीं हैं
Uma Vaishnav
बहुत सुन्दर रचना जी 👍👍👌👌
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.