रानी

मनमोहन भाटिया

रानी
(249)
पाठक संख्या − 24907
पढ़िए

सारांश

पत्नी ही पति के दिल की रानी है
Diksha Dubey
nyc story
रिप्लाय
रीतू गुलाटी
सुखद अहसास लिए सुन्दर रचना।
रिप्लाय
kittu kia
shi kaha prem apko kb kaise ho jye pta ni ho skta h apko jo na mila usse acha. apki life m..ane ke intezr m.ho
रिप्लाय
aps raj
“mohabbat me yeh jaroori h ki bande ko khuda samjhe mohabbat m yeh taakkat h ki bande ko khuda kar de" Nice story, great emotions.
रिप्लाय
Priyesh Pandey
NIC
रिप्लाय
Ashar Ahmad
behtarin zabardast
रिप्लाय
Smriti Singh
बेहतरीन, लाजवाब,, सही कहा असली प्रेम शादी के बाद ही होता है, और समय के साथ बढता ही है
रिप्लाय
Jyotsana Pathak
sabdo ka tana bana kahani ko jeevit kr raha ..bhut sunder kriti 👏👌
रिप्लाय
Amit Patil
nice story
रिप्लाय
Neetu Singh
nice story...
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.