ये पतिदेव चैन से मरने भी नहीं देंगें

Aishwaryada Mishra

ये पतिदेव चैन से मरने भी नहीं देंगें
(145)
पाठक संख्या − 7803
पढ़िए

सारांश

जब एसिडिटी से हुए दर्द के कारण एक महिला अपने मरने से लेकर अपने पति की दूसरी शादी तक के बारे में सोच ले
Abhay Verma
प्यार ही है इतना☺️☺️☺️☺️
Vijay Singh
पति पत्नी के संबंधों पर सहज हास्य व्यंग्य की अच्छी रचना ।
Tannu Singh Nehra
very good 😃😃😃😃😃👏🏻👏🏻👏🏻
Tanuja Bhushan
बहुत ही अचछी रचना मज़ा आ गया
Sofiya Naik
kabhi kabhi gussa bhi kam kar jata hai...eik soch
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.