!! यादगार लम्हा !!

प्रतीक अवस्थी "समीर"!!अधिवक्ता!!लेखक!!

!!  यादगार लम्हा !!
(84)
पाठक संख्या − 6967
पढ़िए

सारांश

मध्यप्रदेश के मंडला में एक मध्यम वर्गीय परिवार मे लक्ष्मी और उसकी बेटी नीता रहती थी।लक्ष्मी पेशे से शासकीय स्कूल में टीचर थी।नीता चंचल खर्चीली तथा बेहद खुबसूरत व आधुनिक परिवेष मे पली बढ़ी 18 वर्ष की ...
Chand Singh Kharb
तु पागल बेवकूफ है जो ईस जमाने में आदर्श वाद की बात करता है
Nimisha Verma
बहुत ही अच्छी कहानी
Heena khan Heena khan
बहुत सुंदर लिखा है सर,,काश के ये लड़के लड़कियां,,मोहब्बत का सच्चा मतलब समझ पाएं,और किसी के दिल को खिलौना ना समझें 💐💐
रिप्लाय
Santosh Kumar Gupta
अतिसुंदर।
Shaline Gupta
👍👍👌👌💐💐😊😊
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.