मैं,तुम और कॉफ़ी

अंश

मैं,तुम और कॉफ़ी
(332)
पाठक संख्या − 13762
पढ़िए

सारांश

नंदिनी सोच में पड़ गयी, पिछले कई दिनों से लड़के या तो नंदिनी से दूर ही रहते थे या कुछ देर के लिए मिलते भी तो कुछ ज्यादा ही व्यवहारिक तरीके से पेश आते थे l आकाश क्यूंकि अभी नया-नया आया था तो शायद उसे इस बारे में पता न हो और इसलिए वो काफी straightforward सा लग रहा था .. स्टोरी क्रेडिट: मुख़्तसर इनके फेसबुक पेज पर हर प्रकार के जुमले,शेर,ख़बर,चुटकुले आदि उचित मात्रा में उपलब्ध हैं l www.facebook.com/Mukhtassar/
Kavita Sharma
Plz jaldi likhna, mujhe padna, this is very interesting. I can feel this story
Pragya Singh
next chapter 6 plzzzzz.....its interesting
Rajshree Prajapat
आगे भी पोस्ट करो बहुत अच्छा लिखा है
Anita Joshi Dobriyal
nice story... waiting for part 6
Sachin Rawal
mujhe lagta hai ki is ko publish hue 2 saal ho chuke hain aur aapne abhi tak part 6 post nhi kiya hai m waiting very eagerly
Vipan Kumar
part 6 kithe aa brother......please upload part 6
Shefali Yadav
lAst line scared me!😅😅 superb
brijesh kamat
waiting for next d part
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.