मेरी फर्नांडिस क्या तुम तक मेरी आवाज पहुँचती है ?

धीरेन्द्र अस्थाना

मेरी फर्नांडिस क्या तुम तक मेरी आवाज पहुँचती है ?
(23)
पाठक संख्या − 7750
पढ़िए

सारांश

बोरीवली... कांदिवली... मालाड... गोरेगाँव... मेरी फर्नांडिस। मेरी फर्नांडिस? हड़बड़ा कर मेरी आँख खुल गई। गाड़ी जोगेश्वरी पर रुकी थी। गोरेगाँव से अगला स्टेशन जोगेश्वरी ही होता है और गाड़ी जोगेश्वरी पर ...
semson masih
semson masih
dear sir you are very good writer 👌
manoj joshi
bahut sunder racha....
Yogendra Singh
बहुत अच्छे से लिखी गई कथा के लिए बधाई स्वीकार करें।
Krati Dixit
Achchi kahani.....mn ki jaddojahad bakhubi dikhayi di Shabdo me Lekin anirnay ki sthiti
Abdul Hayat
heart touching story
Juhi
badhiya....bht achcha hua....aisa hi hona chahiye aiso k sath
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.