मेरा पहला सपना- भाग १

अखिलेश प्रधान

मेरा पहला सपना- भाग १
(135)
पाठक संख्या − 15111
पढ़िए

सारांश

साल 2010, इंजीनियरिंग का तीसरा सेमेस्टर, रात के दो बजे रहे थे। मूवी देखने के बाद मुझे नींद आने लगी थी। मैं सोने से पहले फेसबुक देख रहा था, उस समय फेसबुक एकदम नया था। यानि किसी को हाय हेलो भेजना होता ...
Dr sk saxena
ना जाने क्यों मुझे यह कहानी नहीं सत्य घटना लग रही है।
Siddhi Shukla
अछ्ची कहनी है दुसरा भाग कब आएगा
रिप्लाय
Anshul Animesh Shrivastava
mujhe next part ni dikh raha
रिप्लाय
surendra Rajak
nice story कभी कभी सपना भी सच हो जाता है
Dipti Biswas
शानदार ।।।क्या इसका अगला अध्याय आ चुका है। आप वाकई बहुत अच्छा लिखते है।
रिप्लाय
Mamta Upadhyay
लाजबाब
रिप्लाय
Manu Prabhakar
Awesome.
रिप्लाय
Pratibha Saxena
next part ka intezar hai
रिप्लाय
Rupa tiwari
nice
रिप्लाय
डॉ. इला अग्रवाल
baandh liya. agle bhag ka intezar hai...
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.