मुंशी प्रेमचंद - अनाथ लड़की

फैज़

मुंशी प्रेमचंद - अनाथ लड़की
(257)
पाठक संख्या − 11015
पढ़िए

सारांश

सेठ पुरुषोत्तमदास पूना की सरस्वती पाठशाला का मुआयना करने के बाद बाहर निकले तो एक लड़की ने दौड़कर उनका दामन पकड़ लिया। सेठ जी रुक गये और मुहब्बत से उसकी तरफ देखकर पूछा—क्या नाम है?
Tara Tripathi
वाह, मुंशी प्रेमचन्द लिखें और पसन्द न आए
Amit Patel
बहुत ही साधारण पर दिल की गहराई को छूने वाली
Rita Saxena
बहुत सुंदर
Upkar Goel
jitni bhi tarif ki jaye kam hai munshi ji ki rachnao ki.....
Pandit Lakhera
ऐसी सोच को नमन है
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.