मासिकधर्म या कुरीति

निशा रावल

मासिकधर्म या कुरीति
(39)
पाठक संख्या − 5385
पढ़िए

सारांश

मासिक धर्म के प्रति बेटियों में जागरूकता लाना की वे,इस दौरान कैसे अपने शरीर का ध्यान रखे,,और इस से घबराए न,ये एक बॉयोलोजिकल प्रोसेस है,, जो शरीर के लिए अति आवश्यक है,जो एक स्त्री को गर्भावस्था के लिए तैयार करता है....!!
Toran Ratre
Achi koshis है... Aj b log ऐसी SB कुरीतियों को follow krte h.. Bhut bdlaav की jarrurt h hmare socity को...
राकेश जोशी
Nice topic mam.... Please read my article साहित्य समाज और संस्कृति से दरकिनार मासिक धर्म कुप्रथा and story उदास बेजान स्मृतियाँ. Which r related to same subject..
Er Sâtyâm Châurâsiâ
बहुत ही सुंदर....
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.