मायावी गिनतियां -1

जीशान जैदी

मायावी गिनतियां -1
(23)
पाठक संख्या − 8126
पढ़िए

सारांश

‘टन टन टन!’ स्कूल की घण्टी तीन बार बजी और सनी को ऐसा महसूस हुआ जैसे उसके दिल पर किसी ने तीन बार हथौड़े से वार कर दिया। चौथा पीरियड शुरू हो गया था और ये पीरियड उसे किसी राक्षस के भोजन की तरह लगता था। ...
Shashikant Tripathi
कल्पना का उच्च स्तर आपने रखा ; काश यह कहानी उन बच्चों को पढ़ने को मिलती जो गणित के नाम से सहर उठते हैं ।
डॉ गोविन्द पाण्डेय
बहुत ही रोमांचक और रोचक कथा है । तिलिस्म में गणित का प्रयोग बहुत ही अच्छा लगा । इसी तरह आगे भी रचनाएं दीजियेगा ।
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.