मानें या ना मानें पर ऐसा भी होता है...........

प्रभाकर पांडेय

मानें या ना मानें पर ऐसा भी होता है...........
(515)
पाठक संख्या − 21109
पढ़िए

सारांश

एक नई कहानी। वादा करता हूँ कि आपके सारे प्रश्नों का उत्तर मिल जाएगा और ईश्वरत्व के आप बहुत करीब महसूस करेंगे। कहीं कुछ तो ऐसा होगा, जो आपके जीवन में एक ज्योति के रूप में अग्रसर होगा...खैर खुद पढ़ें और मनन करें। एक बात और यह रोचक, अलौकिक कहानी आत्मा की नहीं परमात्मा की है हाँ हो सकता है कि आत्मा और परमात्मा के मिलन की भी हो...आप अपना विवेक जगाएँ...जय-जय...कैसी लगी भूत-प्रेत से हटकर यह कहानी..जरूर बताएँ।
Ssingh Parihar
बहुत ही अच्छा लगा बेहतरीन कहानी 🙏🙏
shimrta dxt
sach h ye mene sunni h ye kahani
Sona Ahuja
isme bhoot to tha nahi . ye to Bhagwan ki story hai
Ashima Sethi
Bahut hi achi kahani hai
Madhu mishra Dwivedi
सही है।ईश्वर अपने भक्तों का कभी बुरा नही होने देते । बहुत ही अच्छी कहानी ।।।।।।।👌👌
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.