मां को किसने मारा

Vidya Sharma

मां को किसने मारा
(358)
पाठक संख्या − 84947
पढ़िए

सारांश

मानसी रात के खाने की सारी तैयारी कर सोफे पर पड़ गई, बच्चे अभी पढ़ रहे थे,और पति विनय ऑफिस वर्क कर रहे थे। लिहाजा उसके पास घंटे भर का समय था। अभी वह सोच ही रही थी ,कि इस 1 घंटे का उपयोग वह किस तरह ...
Sudhir Kumar Sharma
अद्भुत मार्मिक संवेदनशील
रिप्लाय
Chandrashekhar markanday
अत्यंत ही शानदार
रिप्लाय
Vaishnavi Singh
मर्मस्पर्शी कहानी
रिप्लाय
हेमंत यादव
......👌👌👌👌👌👍👍👍👍
रिप्लाय
Lalita Vimee
बहुत अच्छा विषय और बहुत ही सहज शब्दावली का प्रयोग किया गया है इस मार्मिक कथा मेंं, साधुवाद।।
रिप्लाय
Shourabh Prabhat
बहुत ही उम्दा रचना....
रिप्लाय
मीना मल्लवरपु
very touching story ,vidya ji!food for thought!
रिप्लाय
Meena Bhatt.
bahut hi sundar shubhkamnaye
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.