माँ का व्हाट्स एप

पूजा व्रत गुप्ता

माँ का व्हाट्स एप
(333)
पाठक संख्या − 36938
पढ़िए

सारांश

उस दिन सुबह उठते ही माँ मुझपर जोर से चिल्लाई ... "उठ गयीं तुम ?? जाओ -जाओ और सो जाओ जाकर ।अभी तो बस 12 ही बजे ही हैं।लोगों का एक वक़्त का काम ख़त्म होकर दोपहर की नींद का समय भी हो गया लेकिन ये महारानी ...
Nupur gautam
bahut badhiya kahani likhi aapne sabki mammi aise hi gussa krti h
अरुण गौड़
पुरानी पीढ़ी को नई टेक्नोलॉजी से जोड़ने की सुंदर पहल👍 वैसे में आज तक भी अपने पापा को एंड्रॉय फोन चलना नही सीखा पाया हूँ।😂 बहुत सुंदर कहानी👌👌👌
Jyoti Malviya
बहुत सुंदर। बचपन में मा बच्चों को सिखाती हैं वही बच्चे बड़े होने पर मा को सिखाते हैं।
A
A
pyari story h😊
Vanita Handa
हाहा बहुत सुंदर ।
Sunsa Kerapa
kamal ki story hai g...sach e lajwab writer medam shahiba g
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.