मसान-भैरवी

सर्वेश सिंह

मसान-भैरवी
(109)
पाठक संख्या − 8457
पढ़िए

सारांश

वह नीचे, मसान में, उतर रहा था | यह बनारस के हरिश्चंद्र घाट का जीवंत मसान था जहाँ किसी ज़माने में सत्य की संभवतः सबसे कठिन परीक्षा राजा हरिश्चंद्र ने दी थी- जीवन के चंचल सत्य की परीक्षा, मृत्यु के ...
डॉ गोविन्द पाण्डेय
बहुत ही शानदार और जानदार ।
Vishal Suriya
Singh sahab adbhut kehne ke liye shabd nahin
Giriraj Tomar
उत्तम क्या यह कल्पना थी?
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.