भारत का आरक्षण

विवेक द्विवेदी

भारत का आरक्षण
(60)
पाठक संख्या − 1187
पढ़िए
Aditya Sachan
उत्तम कटाक्ष
Jitender
Bhai super aarakshan ki sachaai hai ye
Vibhu Dwivedi
garibi jaat dekhkar nhi aati sahab
रिप्लाय
Avdhesh Kanare
Gatiya soch ki we utpann
अरुण गौड़
सुन्दर और सत्य.....शानदार रचना👍
प्रदीप कुमार
गठिया मानसिकता से दूषप्रेरित हो कर यह कहानी लिखी गई है एकदम बकवास
Amit Singh Jatav
bakwass h kuch apna liko copy nhi bahut purani story ko change kiya h
Nitin Malviya
kya bakwas h kuch bhi
Dheeraj Meena
दूषित मानसिकता,,,
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.