बेटी तो पराई है

Rajni Braj gopal

बेटी तो पराई है
(22)
पाठक संख्या − 101
पढ़िए

सारांश

बेटी तो पराई है
Prem Krishna Srivastav
ऐ वक्त तुझे बदलना होगा बेटी को बेटे का दर्जा देना होगा। जो कहते बेटी तो पराई है उनका ही मानस बदलना होगा।।
Indira Kumari
बहुत बढियां
आनन्द त्रिपाठी
सितम न उठाने की दिशा में पहला कदम-रचना। मनसा और वाचा तो हो गया कर्मणा शेष है😊
Vijay Singh
एक किशोरी की आत्मव्यथा ।
lucky paliwal
बहुत ही शानदार पंक्तिया
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.