बदनाम शायर

शुभेन्द्र सिंह

बदनाम शायर
(24)
पाठक संख्या − 1286
पढ़िए

सारांश

जब प्यार सरे आम होता है तभी एक शायर बदनाम होता है ........................
Shubhkaran Dhetarwal
gajab janab.. mai chu lu tujhko wali panktiyabkya kahi
रिप्लाय
Gauri kumar
गज़ब जनाब 😀
Shikha Singh
बहुत सुंदर लिखा है 👌👌👌👌
Asha Shukla
very nice and beautiful creation.
Digamber bhengra
दिल से निकली बातें दिल तक पहुँचती है।
रिप्लाय
Neha Singh
बहुत ही सुन्दर शब्द है आपने अपना दिल निकाल कर रख दिया है इस पक्ति मे
Neha Singh
बहुत ही सुन्दर शब्द है आपने अपना दिल निकाल कर रख दिया है इस पक्ति मे
रिप्लाय
Ujjwal Singh
प्यार को हमने भि छुपाया कइ दफ़ा, मगर हर बार ये बाजार मे शोर कर देता है, जब भी कहा मैने प्यार से कि प्यार प्यार से किया कर्, ओ हर शहर मे मुझे बद्नाम कर देता है
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.