बचपन और बच्चन

और्व विशाल

बचपन और बच्चन
(86)
पाठक संख्या − 1503
पढ़िए

सारांश

हमारे देश की सभ्यता और संस्कृति में जिस प्रकार रामायण और महाभारत का प्रभाव है, वर्तमान में हिन्दी फिल्मों का भी वैसा ही योगदान . .....
ओम जोशी
चल चित्र के नायक असल जिंदगी के नायक नहीं होते । जो इन फिल्मी नायकों को असली नायक मानते हैं वे जिंदगी में हमेशा पिछडते ही रहते हैं। वैसे आपका ये व्यंग्य काबिले तारीफ़ है।
Deepa Soni
बहुत अच्छा
Khushi Patel
बहुत खुब 👌👌मजा आ गया
Tihom Og
बहुत अच्छी
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.